संवाद जन सरोकारों का....

उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रों में महिलाओं को बहुत से मुसीबतों का सामना करना पड़ता है – धना वल्दिया

खबर सुने

न्यूज डेस्क / देहरादून । उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के सामाजिक कार्य प्रकोष्ठ द्वारा प्रेम नगर के ठाकुरपुर में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता समाजिक कार्य प्रकोष्ठ के संयोजक धना वल्दिया ने की। कार्यक्रम में उत्तराखंड में महिलाओं के हालात एवं उनके विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की गई। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए धरना वल्दिया ने कहा ’उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रों में महिलाओं को आज भी बहुत से मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। साथ ही साथ उन्हें अपने घर परिवार का भी ध्यान रखना पड़ता है ।

कई जगह हमने पाया है कि किसी किसी परिवार में महिलाओं को अत्याचार एवं उत्पीड़न का भी सामना करना पड़ता है। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के माध्यम से मैं यह बताना चाहती हूं कि प्रदेश में जितने भी पीड़ित एवं मुसीबत झेल रही महिलाएं हैं वे सब उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी से जुड़े एवं अपने क्षेत्र में जो भी मुसीबत है उन सब के बारे में लोगों को बताएं। हमारा मकसद सिर्फ राजनीति करना नहीं है हम राजनीतिक दल के साथ-साथ एक सामाजिक दल भी हैं, जो कि समाज में विभिन्न पहलुओं को हर वक्त गंभीरता से लेता है एवं उसके निवारण हेतु विभिन्न प्रकार के समाधान भी निकालता है।

हमारे सुदूर पहाड़ के गांव में महिलाओं को स्वास्थ्य संबंधी बहुत से समस्याओं का सामना करना पड़ता है। आप अक्सर ऐसी बातें सुनते होंगे कि गर्भवती महिला अस्पताल पहुंचने से पहले ही दम तोड़ दिया। आज के आधुनिक युग में यह किस तरह का स्वास्थ्य सुविधा हमारे राज्य में उपलब्ध है यह आप आकलन कर सकते हैं। गांव के बहुत से महिलाओं को खेती बाडी एवं जानवर के घास के लिए जंगल में जाना पड़ता है एवं जंगल में मौजूद जंगली जानवरों द्वारा उनका शिकार होना भी महिलाओं को ही झेलना पड़ता है।

अगर किसी गांव में पेयजल की उपयुक्त व्यवस्था नहीं है तो घर के महिलाएं ही पानी लाने कुछ किलोमीटर दूर तक जाएगी यह भी महिलाओं को ही करना पड़ता है। इसके साथ-साथ संपूर्ण परिवार की देखभाल करना, खाना बनाना यह सब हम महिलाओं के जिम्मेदारियों में ही डाल दी गई है। अब वक्त आ गया है कि महिलाओं को इन तमाम मुसीबतों से बाहर निकल कर अपनी आवाज को बुलंदी के साथ लोगों तक पहुंचाना होगा एवं समाज में महिलाओं के प्रति जो भेदभाव का चलन है उसे भी समाप्त करना पड़ेगा।

मैं आप सब से विनती करती हूं कि आप अपने गांव घर में जाकर अपने घर के महिलाओं को बतायें कि उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी उत्तराखंड की एक क्षेत्रीय पार्टी है जो कि महिलाओं एवं समाज में मौजूद सभी समस्याओं का हल निकालने हेतु उत्तराखंड के महिलाओं के साथ हर वक्त तैयार रहता है। आप सब अपने अपने गांव घर में कि महिलाओं को उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी से जोडे एवं समाज में मौजूद भेदभाव उत्पीड़न एवं शोषण के खिलाफ अपनी आवाज उठाएं।

इस कार्यक्रम में उत्तराखंड के विभिन्न जनपदों से महिलाओं ने प्रतिभाग किया एवं कोरोना महामारी में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सभी लोगों ने होली खेलते हुए कार्यक्रम का समापन किया। सामाजिक कार्य प्रकोष्ठ से गीता कार्की, अरुणा सिंह, पुष्पा चौहान, भावना चौहान, पूजा राणा, अनीता देवी, ललिता खड़ायत, शांति धामी, कमला धामी आदि मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: