संवाद जन सरोकारों का....

उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी कि ओर से गोपेश्वर में प्रेस वार्ता का आयोजन

खबर सुने

न्यूज डेस्क / गोपेश्वर । उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी कि ओर से गोपेश्वर में प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के खुशहाल नेगी -संयोजक थराली, राजीव सिंह -संयोजक कर्णप्रयाग एवं कुलदीप सकलानी-संयोजक बद्रीनाथ संयुक्त रूप से किया।

खुशहाल नेगी ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा ’उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी अपने अध्यक्ष माननीय संजय कुण्डलिया जी के नेतृत्व में राज्य के लोगों के सामने एक राजनीतिक विकल्प देने जा रहा है, जो समग्र उत्तराखंड को एक विकसित राज्य बनाने के लिए संकल्पित है और जो बहुआयामी विकास के लिए दृढ़ निश्चय ले चुके है।

शिक्षा के क्षेत्र में उत्तराखंड के हर बच्चे को सरकारी और प्राइवेट सभी स्कूल, काॅलेज में निशुल्क शिक्षा देने का भी निश्चय किया है। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी आने वाले चुनाव में प्रदेश के 70 के 70 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेंगे और विजई होंगे।

  • उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी की सरकार आते ही 10 दिन के अंदर उत्तराखंड को पूर्ण शराब मुक्त कर दिया जायेगा

उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी की सरकार आते ही 10 दिन के अंदर उत्तराखंड को पूर्ण शराब मुक्त कर दिया जायेगा। वर्तमान में जो स्थिति उत्तराखंड के अंदर शराब को लेकर है वह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है। हम देवभूमि कहलाते हैं और सारे संसार में हम अपने धामों, ऋषिकेश, हरिद्वार जैसे पवित्र भूमि को एक पवित्र और देवस्थली के नाम से जानते हैं।

जिस जगह चर्चा होती है वहां पर आप यह देख सकते हैं कि उत्तराखंड को देवभूमि धामों का धाम परमधाम और शिवालय जैसे गौरवमई स्थान प्राप्त हुआ है। इस पावन पवित्र भूमि पर सिर्फ धार्मिक लिहाज से ही शराबबंदी होना चाहिए ऐसा नही है, बहुतों ऐसे कारण है जिसको ध्यान में रखते हुऐ हमारी पार्टी ने यह फैसला लीया है।

आप देख सकते हैं कि हमारे पहाड़ों में अनेकों ऐसे परिवार आपको मिल जाएंगे जहां शराब के वजह से हर रोज कितनी महिलाओं को अपमान का सामना पड़ता है। वही आए दिन आपको सड़क पर शराब पीकर गाड़ी चलाने की वजह से अनेकों हादसे होने कि भी खबर मिलती ही रहती है। यह सब एक शराब की वजह से घटने वाली ऐसी निंदनीय घटना है जिसने उत्तराखंड के मान-सम्मान और अनेको परिवारों को गर्त में ला दिया है। शराब की वजह से अनेकों परिवार में आर्थिक तंगी झेलनी पड़ती है।

उत्तराखंड के युवाओं में नशे का ऐसा लत लग चुका है कि अब वे अपने उज्ज्वल भविष्य से दूर होते जा रहे हैं और नशे के आगोश में धीरे-धीरे प्रवेश करते जा रहे हैं। दिन-ब-दिन शराब का नशा जो है हमारे प्रदेश के युवाओं को खोखला करता करता चला जा रहा है और वह दिन दूर नहीं जब नशे और शराब की वजह से हमारा प्रदेश एक कमजोर शक्तिहीन युवाओं की जमावड़ा बन जाएगा।

जहां पर हर वर्ग के लोग नशे की वजह से होने वाले नुकसान को झेल रहे होंगे। कई जगह आप देख सकते हैं कि स्कूलों एवं कॉलेजों में भी बच्चे शराब पीते हुए पाए गए हैं। यह सब ऐसी घटनाएं हैं जो हमें शर्मसार कर देती है। ऐसी राजनीति करने का क्या फायदा जिससे आपको आर्थिक स्थिति सुधारने का हवाला देकर लोगों को बर्बाद कर रहे हैं।

उत्तराखंड के परिवारों का नाश कर रहे हैं और विभिन्न प्रकार के बीमारियां हम अपने लोगों में प्रवेश करने दे रहे हैं। यह सब अब नहीं चलेगा उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी संकल्प लेती है कि जब वह सरकार में आएगी तो 10 दिन के भीतर पूरे प्रदेश में शराब बंदी लागू करेगी और यह अवश्य होगा।

वार्ता के दौरान अन्य संयोजको ने कहा की आखिर 20 सालों में बीजेपी और कांग्रेस ने विकास और रोजगार के नाम पर उत्तराखंड की भोली-भाली जनता को बस ठगा है और अगर उत्तराखंड की भोली-भाली जनता अपने हक की मांग करे तो उनको मिलता है ’लाठीचार्ज’ और जेल।

आप सभी लोगों ने देखा होगा जिस प्रकार वर्तमान और अस्थिर सरकार ने सड़क मांग रही भोली-भाली जनता पर विधानसभा सत्र के बीच दिवालीखाल में माताएं- बहने के ऊपर किस प्रकार लाठीचार्ज किया । उत्तराखंड में हर उत्तराखंडी ने सोच लिया है कि उत्तराखंड में सरकार होगी तो बस क्षेत्रीय पार्टी की होगी।

यह दिल्ली से संचालित होने वाली बड़ी-बड़ी राजनीतिक दल हमारे प्रदेश का सिर्फ और सिर्फ शोषण करना चाहते हैं। हर किसी को बस मुख्यमंत्री के पद पर बिठा कर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। ना इनके पास कोई योग्य उम्मीदवार ही है और ना ही कोई योग्य नेता जो प्रदेश को आगे ले चले।

उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी हमेशा से राज्य के पक्ष में यह मांग करती रही है कि पहाड़ से पलायन को रोकना चाहिए, पहाड़ में अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं होनी चाहिए, उत्तराखंड के युवाओं को उत्तराखंड में ही रोजगार मिलना चाहिए, राजधानी हमारी हो तो गैरसेंन ही हो और हर गांव को सड़क मार्ग से जोड़ना चाहिए।

प्रेस वार्ता में उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी कि ओर से खुशहाल नेगी -संयोजक थराली, राजीव सिंह -संयोजक कर्णप्रयाग, कुलदीप सकलानी-संयोजक बद्रीनाथ एवं करण शाह, मनोज पवार, माधवानंद एवं अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: