संवाद जन सरोकारों का....

उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी ने रुद्रप्रयाग क्षेत्र के विकास के खस्ताहाल हालात पर प्रेस वार्ता का किया आयोजन

खबर सुने

न्यूज डेस्क / रुद्रप्रयाग । उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी कि ओर से रुद्रप्रयाग के जीएमवीएन सभागार में एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के जिला संयोजक रुद्रप्रयाग एवं संयोजक केदारनाथ विधानसभा क्षेत्र उमेश नौटियाल जी द्वारा किया गया।

 उमेश नौटियाल जी ने स्थानीय मुद्दों को गंभीरता से लेते हुए कहा कि जिले में स्वस्थ और बेरोजगारी की समस्या चरम पर है। बड़ी राजनीतिक दल दिल्ली से  उत्तराखंड के किस्मत को लिखते और मिटाते हैं और यह सिलसिला बरसों से चलता आ रहा है। अब समय आ गया है कि हमें अपने क्षेत्र के राजनीतिक दल जैसे उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी द्वारा हर स्थानीय मुद्दों का हल निकालना ही पड़ेगा। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी उत्तराखंड के विकास को लेकर प्रतिबद्ध है और वह उत्तराखंड के संपूर्ण एवं समग्र विकास का रोड मैप उत्तराखंड वासियों को देने जा रहा है।

 उत्तराखंड का दोहन राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय एजेंसी द्वारा  कॉरपोरेट सरकार के माध्यम से किया जा रहा है एवं हमारे स्थानीय विकास और मुद्दों को नजरअंदाज करते हुए हमारी धरोहर को दिल्ली से आकलन किया जा रहा है। हम अपने संपूर्ण उत्तराखंड वासियों से अनुरोध करते हैं कि वे उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चले और अपनी विकास  और रोजगार की रेखा को अपने अनुसार तय करें। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी  राज्य के सभी लोगों को सामान्य रूप से देखती है एवं सभी को अपने क्षमता अनुसार काम करने का अवसर प्रदान करता है।

आप यह देख सकते हैं कि रुद्रप्रयाग क्षेत्र में नमामि गंगे के माध्यम से विकास कार्यों का जो दोहन किया गया है एवं लोगों को विकास के नाम पर मूर्ख बनाया गया है यह जगजाहिर है। रुद्रप्रयाग के सुदूर क्षेत्र में स्वास्थ्य की सुविधा ऐसी है कि अगर आप श्रीनगर, देहरादून ना आए तो एक अल्ट्रासाउंड भी आप नहीं करा सकते, गंभीर बीमारी के इलाज की तो बात ही मत कीजिए।

हमारे क्षेत्र में पलायन भी एक गंभीर मुद्दा है और हम यह देख सकते हैं कि हमारे गांव में हर घर से दो या तीन पुरुष  दूसरे राज्य में अपनी रोजी-रोटी तलाशने जा रहे हैं। अगर हमें अपना रोजगार हमारे क्षेत्र में ही मुहैया करा दी जाए तो हम अपने क्षेत्र में रहकर रोजी रोटी कमा और खा सकते हैं।

 उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के समान भाव के व्यवहार को इस रूप में देखा जा सकता है कि यदि कोई व्यक्ति महिला या पुरुष हमारे पार्टी में जुड़़ते हैं तो उन्हें शुरुआती दौर में ही संयोजक का पद दिया जाता है जिससे ऊंच-नीच और भेदभाव ही खत्म हो जाता है।

मैं सभी क्षेत्रवासियों से अनुरोध करता हूं कि ज्यादा से ज्यादा संख्या में आप उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी से जुड़े और अपने प्रदेश की विकास को अपने हाथों से लिखें।

प्रेस वार्ता में उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी कि ओर तपोवन-रैणी आपदा पर भी शोक जताई गई। कार्यक्रर्म में अरविंद रावत, बिपिन पंचपुरी, आशीष उनियाल, दिनेश थपलियाल एवं अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: