संवाद जन सरोकारों का....

उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद द्वारा ‘होमस्टे’ विषय पर प्रदर्शित झांकी को काफी सराहा गया

खबर सुने

न्यूज डेस्क / देहरादून। देहरादून के परेड ग्राउड में 72वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद की ओर से ‘होमस्टे’ विषय पर झांकी प्रदर्शित की गयी। झांकी को महामहिम राज्यपाल उत्तराखण्ड सरकार बेबी रानी मौर्य, मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड सरकार त्रिवेन्द्र सिंह रावत व अन्य अतिथिगणों द्वारा होमस्टे पर आधारित झांकी को काफी सराहा गया।

उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद द्वारा प्रदेश के शहरी क्षेत्रों के साथ-साथ दूरस्थ ग्रामीण अंचलों में पर्यटकों को आकर्षित करने, पर्यटकों हेतु स्तरीय आवासीय सुविधा बढ़ाने, स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने तथा भवन स्वामियों को अतिरिक्त आय का श्रोत उपलब्ध कराये जाने हेतु संचालित होमस्टे विषय को प्रदर्शित करते हुये अपनी विभागीय झांकी को प्रस्तुत किया गया।

72वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर झांकी के माध्यम से प्रदर्शित किया गया कि उत्तराखण्ड राज्य की यात्रा पर आने वाले देशी-विदेशी पर्यटकों को जहां एक ओर राज्य की सांस्कृतिक विरासत, ग्रामीण परिवेश, रीति-रिवाजों, पहनावे इत्यादि से परिचित होने का अवसर प्राप्त हो रहा है। वहीं दूसरी ओर उत्तराखण्डी व्यंजनों को भी राष्ट्रीय-अन्र्तराष्ट्रीय स्तर पर पहचान प्राप्त हो रही है। कोराना काल में जहां हम भीड़-भाड़ से दूर रहते हुये सामाजिक दूरी का पालन कर रहे हैं वहीं पर्यटकों के लिए वर्क फ्राॅम होम स्टे भी एक नया विकल्प उभरकर आ रहा है। इस झांकी के माध्यम से पर्यटकों को वर्क फ्राॅम होमस्टे के लिए उत्तराखण्ड आमंत्रित किया गया।

झांकी के माध्यम से उत्तराखण्ड राज्य की प्राकृतिक विरासत को प्रदर्शित करते हुये उच्च हिमालयी पर्वत माला, पर्वत माला के प्रागंढ में उगे हरे-भरे वन, वन सम्पदा तथा हिमालय की गोद में बसे उत्तराखण्ड राज्य की भव्य सांस्कृतिक विरासत को प्रदर्शित करते हुये पहाड़ी वास्तुकला से बना घर जिसमें पटाल की छत, तिबारी एवं लकड़ी पर सुन्दर तरीके से की गयी नक्काशी से बनाया गया स्वागत द्वार हमकों आमंत्रित कर रहा है कि कुछ दिन तो बिताओ मेरे पहाड़ में को प्रदर्शित किया गया।

वहीं 72वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद में वित्त निदेशक जगत सिंह चौहान ने ध्वाजरोहण किया।

उन्होंने इस अवसर पर सभी को सम्बोधित करते हुए कहा कि सभी अधिकारी व कर्मचारी पूरे कर्तव्य व निष्ठा के साथ अपना कार्य करें। इस अवसर पर उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद में सभी अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: