संवाद जन सरोकारों का....

एनएपीएसआर ने किया बुक बैंक और अपनी पाठशाला की नई शाखा का शुभारंभ

खबर सुने

न्यूज डेस्क / देहरादून। नेशनल एसोसिएशन फॉर पैरेंट्स एंड स्टूडेंट्स राइट्स द्वारा संचालित बुक बैंक और निर्धन जरुरतमन्दों के लिए संचालित निःशुल्क “अपनी पाठशाला” की नई शाखा का शुभारंभ भुत्तों वाली चौक, वाइल्ड लाइफ रोड़, चन्द्रमणि, सहारनपुर रोड़ देहरादून मे किया गया। जिसका संचालन जगत बन्धु सेवा ट्रस्ट व सह सहयोगी भारत विकास परिषद क्लेमेनटाउन शाखा (पश्चिम) द्वारा किया जाएगा ।

बुक बैंक और अपनी पाठशाला का शुभारंभ सयुंक्त नागरिक संगठन के महासचिव वरिष्ठ समाज सेवी सुशील त्यागी, विश्वम्भर नाथ बजाज, भारत विकास परिषद की सविता मेहता, आर०पी०अग्रवाल द्वारा रिबन काटकर किया गया । इस अवसर पर उपस्थित सभी गणमान्य नागरिक ने अपने मन की बात रख कर शुभकामनाएं दी ।

एनएपीएसआर के अध्यक्ष आरिफ खान ने इस अवसर पर बताया कि जरूरतमंद बच्चों के लिए एनएपीएसआर की अपनी पाठशाला की दूसरी और बुक बैंक की पांचवी शाखा का शुभारंभ किया गया है।

इससे पूर्व मे नेहरू कॉलोनी, सहस्त्रधारा रोड , सीमाद्वार, प्रेमनगर, ठाकुरपुर मे पहले से ही उनके द्वारा बुक बैंक संचालित किये जा रहे है, व अन्य क्षेत्रों मे भी शीघ्र ही नई शाखाएं खोली जायेगीं ।

संस्था द्वारा संचालित अपनी पाठशाला मे निःशुल्क शिक्षा देने वाली महिला शिक्षिका युवती को भारत विकास परिषद द्वारा मासिक भुगतान किया जाएगा ताकि उस शिक्षिका युवती को भी रोजगार मिल सके ।

नई शाखा के संचालक सुमित कुमार ने खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि एनएपीएसआर बहुत ही नेक काम कर रही है। अतः वो चाहेंगे कि अन्य जगह भी एनएपीएसआर के सहयोग से बुक बैंक और अपनी पाठशाला का शुभारंभ कर सकें ताकि निःशुल्क शिक्षा सबकी पहुंच मे हो ।

इस अवसर पर एनएपीएसआर के अध्यक्ष एनएपीएसआर के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरिफ खान, सहस्त्रधारा रोड़ पर संचालित होने वाले अपनी पाठशाला की संचालिका कविता खान,महासचिव सुदेश उनियाल,संरक्षक विश्वम्भर नाथ बजाज, सुशील त्यागी, बादल जोशी, नवदीप गर्ग, पूजा गर्ग, भारत विकास परिषद से अंजना महेश्वरी अध्यक्ष भारत विकास पारिषद आर पी अग्रवाल सविता मेहता जी. अनीता कपूर, अनु वालिया, आर एस बिष्ट, आर पी श्रीवास्तव, जगतबन्धु सेवा ट्रस्ट के संस्थापक सुमित कुमार, गौतम, सुमित, सार्थक, कार्तिक इत्यादि उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: