संवाद जन सरोकारों का....

कंसाई नेरोलैक के भरोसेमंद समाधानों के साथ अपने घर को मानसून के लिये तैयार करें

खबर सुने

न्यूज डेस्क / देहरादून। हमारे देश में सबसे ज्यादा इंतजार मानसून के सीजन का किया जाता है और बारिश के दिन धरती के नम होने से आने वाली सुखद सुगंध की तो किसी भी चीज से तुलना नहीं की जा सकती। मानसून आने को है और हमें आराम से घर बैठे बारिश का मजा लेना है, लेकिन यह सुनिश्चित करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है कि बारिश से घर में पानी रिसने या टपकने से उसका मजा खराब न हो।

महामारी की मौजूदा स्थिति ने ऐसी अभूतपूर्व चुनौतियां दी हैं, जिन्होंने हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित किया है। मानसून से जुड़ी समस्याओं से निपटने में मानसिक शांति और भी ज्यादा प्रभावित हो सकती है।

पेंट का छूटना, नमी के धब्बे, रिसाव, छत और दीवारों पर फफूंद से घर की सुंदरता प्रभावित हो सकती है और असहजता तथा चिढ़ पैदा हो सकती है। छत से नमी का रिसाव न केवल घर की सुंदरता को प्रभावित करता है, बल्कि उससे स्टील की छड़ों में जंग लग सकती है और घर की संरचना कमजोर हो सकती है।

हालांकि, सही समय पर इन समस्याओं से निपटकर मानसून के दौरान मानसिक शांति सुनिश्चित की जा सकती है और घर की संरचना को सुरक्षित रखकर उसकी सुंदरता को बनाये रखा जा सकता है।

इस प्रकार वाटरप्रूफिंग एक मूलभूत आवश्यकता है। अब वाटरप्रूफिंग की पारंपरिक विधियाँ उपलब्ध हैं,लेकिन वे एक बाधा बन सकती हैं, क्योंकि उनमें काफी समय लगता है, वे नुकसान पहुँचा सकती हैं और केवल थोड़े समय की राहत देती हैं। इसलिए, वाटरप्रूफिंग के सही उत्पादों में निवेश करना अतिरिक्त तनाव के बिना मौसम का मजा लेने की कुंजी है। नेरोलैक पर्मा नोडैम्प वाटरप्रूफ कोटिंग जैसे समाधान बाहरी दीवारों और छत की बारिश से सुरक्षा करते हैं और 8 साल की वाटरप्रूफिंग वारंटी के साथ आते हैं और आपको मानसिक शांति की गारंटी देते हैं।

यह उत्पाद सुनिश्चित करता है कि बाहर से पानी का रिसाव न हो और आपकी दीवारों तथा छत को नुकसान न हो और यह आपको धब्बेदार और जर्जर दिखने वाली सतहों के कारण हो सकने वाली सामाजिक असहजता से बचाता है। इस उत्पाद का एक अतिरिक्त लाभ यह है कि यह सतह के तापमान को 80 सेंटीग्रेड तक कम करता है। नेरोलैक पर्मा नोडैम्प लगाने के बाद आप एक्सटीरियर्स की पेंटिंग के लिये नेरोलैक एक्सेल टोटल पेंट ले सकते हैं।

वाटरप्रूफिंग इंटीरियर्स के लिये भी उतनी ही जरूरी है। मानसून के दौरान भूमिगत जल का स्तर बढ़ता है और नमी का रिसाव होने से भीतरी दीवारों पर नमी के धब्बे आ जाते हैं, जो मानसून के गुजरने के बाद भी लंबे समय तक रहते हैं। इससे दीवारों का पेंट छूटने लगता है और घर के इंटीरियर, लुक और अनुभव पर बुरा प्रभाव होता है।

घर के मालिक दीवारों की पेंटिंग पर बहुत पैसा खर्च करते हैं, इसलिये यह सुनिश्चित करना जरूरी है कि वाटरप्रूफिंग सही ढंग से हो, ताकि पेंट की गई सतहें लंबे समय तक सुरक्षित रहें। एक हाई-परफॉर्मेंस वाटरप्रूफ कोटिंग नेरोलैक पर्मा सुपर 2के से भीतरी दीवारों को सुरक्षित किया जा सकता है, क्योंकि यह लंबे समय तक दीवारों को नमी और फूलने से बचाती है। यह सुनिश्चित करती है कि घर की सुंदरता पर कोई असर न हो और आपके दोस्तों तथा परिजनों के बीच आपकी प्रतिष्ठा बनी रहे ।

वाटरप्रूफ पेंट से बाहरी दीवारों को पेंट करना मानसून में घर की सुरक्षा के सबसे प्रभावी तरीकों में से एक है। हालाँकि, कम गुणवत्ता का पेंट इस्तेमाल करने से नमी, एल्गी (शैवाल) की वृद्धि और बाहरी दीवारों से पेंट के छूटने जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

नेरोलैक एक्सेल टॉप गार्ड एक वाटरप्रूफिंग एक्रिलिक पेंटिंग सिस्टम है, जो परफॉर्मेंस और वाटरप्रूफिंग की 10 साल की वारंटी देता है और यह सुनिश्चित करेगा कि आपको लंबे समय तक इन समस्याओं की चिंता न रहे।

यह बारिश से 20 गुना ज्यादा सुरक्षा देता है और ऐसी जगहों के लिये आदर्श है, जहाँ भारी बारिश होती है। इसमें नेरोलैक एक्सेल टॉप गार्ड वाटरप्रूफ बेसकोट और नेरोलैक एक्सेल टॉप गार्ड टॉपकोट आते हैं, जो निश्चित रूप से आपके घर के लुक और अनुभव का स्तर ऊँचा करेंगे और उसकी पूरी सुरक्षा करेंगे और आपके साथियों के बीच आपका रूतबा बढ़ाएंगे।

यह सुनिश्चित करने के लिये कि आपका घर मानसून के लिये तैयार रहे, सही समय पर उपाय करके इस सीजन का मजा लें और मानसून को अपने लिये तनाव-मुक्त बनाएं

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: