संवाद जन सरोकारों का....

कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा बढती महंगाई के विरोध मे हल्ला बोल

खबर सुने

न्यूज डेस्क / देहरादून । देहरादून महानगर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लगातार बढती महंगाई के विरोध में आज महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा के नेतृत्व में कैन्ट विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत एक गैस गोदाम के सामने विरोध प्रदर्शन के साथ भाजपा सरकार के विरोध में नारेबाजी की।

इस अवसर पर लालचन्द शर्मा ने कहा कि भाजपा के शासन में मंहगाई अपने चरम पर है तथा आम आदमी का जीना दूभर हो चुका है। पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस के दाम बेतहाशा बढते जा रहे हैं तथा भाजपा की केन्द्र व राज्य सरकारें मंहगाई पर काबू पाने में असफल साबित हुई हैं।

100 दिन में मंहगाई कम करने का वायदा करने वाली मोदी सरकार ने मंहगाई से देश की जनता का बुरा हाल कर दिया। बढ़ती मंहगाई के विरोध में कांग्रेस पार्टी आम जनता के साथ खडी होकर सरकार की नीतियों का विरोध करती है। उन्होंने कहा कि 2014 में 450/- का रसोई गैस सिलेण्डर 800/- पर पहुंच गया है, पेट्रोल 90 रूपये तथा डीजल 80 रूपये पर पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी ने 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा सरकार बनने पर मंहगाई कम करने, दो करोड़ बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने का वायदा एक जुमला साबित हुआ।

लालचन्द शर्मा ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण लोगों के रोजगार ठप्प हो चुके हैं तथा पहले से मंहगाई की मार झेल रहा आम आदमी अब पेट्रोलियम पदार्थों (डीजल, पेट्रोल, रसोई गैस) के दामों में लगातार हो रही वृद्धि से जरूरत की चीजों के दामों में कई गुना वृद्धि के कारण पीड़ित है। उन्होंने कहा कि पेट्रोलियम पदार्थों के दामों में वृद्धि के कारण खाद्य्य पदार्थों सहित सभी चीजों के दामों में स्वाभाविक रूप से वृद्धि होनी निश्चित है।

विषेशकर खाद्य्य पदार्थों की बढ़ती कीमतों के कारण आम आदमी को दो वक्त की रोटी के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है तथा मंहगाई का बोझ आम आदमी के जीने की राह और कठिन बना रहा है। पहले से मंहगाई से त्राहि-त्राहि कर रही जनता पेट्रोलियम पदार्थों (पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस) की कीमतों में लगातार की जा रही वृद्धि से त्रस्त हो चुकी है तथा अब मंहगाई बर्दास्त करने की स्थिति में नहीं है। उन्होंने कहा कि अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट होने के बावजूद पेट्रोल, डीजल की दरों में लगातार बढ़ोतरी की जा रही है।

यूपीए शासन में जहां अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम 150 डाॅलर प्रति बैरल होनेे के बावजूद देश में पेट्रोलियम पदार्थों के दाम काफी कम थे परन्तु वर्तमान में अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम बहुत कम होने के बावजूद देश में पेट्रोल-डीजल डीजल व रसोई गैस के दामों मे लगातार वृद्धि की जा रही है। देश की जनता आने वाले चुनावों में भाजपा को इसका सबक जरूर सिखायेगी।

प्रदर्शन करने वालों में पूर्व विधायक राजकुमार, पार्षद कोमल बोरा, सविता सोनकर, मीना रावत, अमृता कौशल, अनीता निराला, गुरचरण कौशल, तरूण भारद्वाज, निर्मला देवी, बलवन्त कौर, अंजू क्षेत्री, मुकेष सोनकर, सीमा जोशी, नीरा वर्मा, प्रेम प्रकाश जोशी, रजनी राठौर, जया भारद्वाज, देवेन्द्र कौर, रीता कुमार, सुक्रिता, मिथलेश देवी, मीनाक्षी नेगी, नीलम चावला, लक्ष्मी, पूजा, जरीना खातून आदि कार्यकर्ता शामिल थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: