संवाद जन सरोकारों का....

सरकार कोरोना गाइडलाइन के साथ जल्द शुरू करें चार धाम यात्रा -संजय भट्ट, आप प्रवक्ता

खबर सुने

न्यूज डेस्क / देहरादून। आम आदमी पार्टी प्रवक्ता संजय भट्ट ने एक बयान जारी करते हुए प्रदेश में चारधाम यात्रा को शुरु करने की वकालत की है। आप प्रवक्ता ने कहा, उत्तराखण्ड की आर्थिकी,हजारों युवाओं का रोजगार चारधाम यात्रा पर टिका रहता है, लेकिन पिछले साल से कोरोना के चलते चारधाम से जुड़े प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े हजारों लोगों के सामने रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है। बीते दो सालों से कोरोना महामारी के चलते इसका सीधा असर उन लोगों की आर्थिकी पर पडा है, जिन लोगों का रोजगार यात्रा से ही चलता है। लेकिन कोरोना महामारी के बाद प्रदेश में बीते साल से ही पर्यटन और यात्रा पूरी तरह से प्रभावित हुई है।

आप प्रवक्ता भट्ट ने कहा कि, आज स्थिति ये है कि, यात्रा से जुडे बडे और छोटे व्यापारियों के आगे रोजी रोटी का घोर संकट पैदा हो गया है। अधिकांश व्यवसायी ऐसे हैं, जिनपर बैंकों का लोन है और इस हालत में वो लोग लोन देने में असक्षम हैं, लेकिन बैंक इन लोगों पर लोन चुकाने का लगातार दबाव बना रहे हैं। जबकि इससे पहले भी ऑल वेदर रोड बनने से पहले ही यात्रा रुट पर रोजगार प्रभावित हुआ, तो दूसरी ओर ढाबे संचालक, होटल व्यवसायी, मोटरवाहन स्वामी, पोर्टर, घोडे खच्चर वाले, छोटे दुकानदार समेत अन्य रुप से यात्रा से जुडे इन लोगों को कोरोना संक्रमण बढने से सड़कों पर लाकर खड़ा कर दिया है। आज आलम ये है राज्य में चारधाम से जुड़े लोग खुद को असहाय समझकर सरकार की तरफ उम्मीद भरी निगाहें से देख रहे हैं कि कब सरकार चारधाम यात्रा शुरू करे ताकि एक बार फिर वो अपने पांवों पर खड़े होने की कोशिश कर सकें।

आप प्रवक्ता संजय भट्ट ने बताया कि, चारधाम में लगभग 4 महीने का ही सीजन रहता है, जब ज्यादा से ज्यादा यात्री ,यात्रा करने उत्तराखण्ड आते हैं और ये समय यात्रा के लिए पीक सीजन माना जाता है, लेकिन ऐसे समय में ही, अगर यात्रा को नहीं खोला गया तो आने वाले कई महीनों तक उनके सामने रोजी रोटी का संकट रहेगा जिससे उनको और उनके परिवारों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

इसलिए राज्य सरकार को इस मामले में गंभीरता दिखाते हुए कोरोना गाइडलाइन के पालन के साथ जल्द से जल्द चारधाम यात्रा सुचारू करनी चाहिए। इसके अलावा संजय भट्ट ने कहा,स्थानीय के साथ साथ जिनको कोरोना की दोनों डोज लग चुकी और जो आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट साथ लाएं उन्हें तत्काल चारधाम जाने की परमिशन देनी चाहिए ताकि इससे जुड़े व्यवसाय के लोगों को रोजगार मिल सके।

उन्होंने आगे कहा कि, आप पार्टी का ये मानना है कि, कोरोना गाईडलाईन्स का पालन प्रदेश में पूरी तरह से होना चाहिए, जिसके लिए सरकार को और ज्यादा गंभीर होना होगा। सरकार को संक्रमण रोकने के लिए जल्द से जल्द ठोस उपाय भी अपनाते हुए, वैक्सीनेशन पर भी ज्यादा फोकस करना होगा। संजय भट्ट ने कहा, अगर अब भी सरकार यात्रा सीजन को लेकर कोई पहल नहीं करती है तो, हजारों लोगों की आर्थिक बर्बादी के लिए राज्य सरकार ही जिम्मेदार होगी। इसलिए सरकार को चारधाम से जुड़े व्यवसायों को देखते हुए जल्द से जल्द चारधाम यात्रा शुरू करनी चाहिए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: