Home उत्तराखण्ड चकराता के लोगों का कोविड-19 टीकाकरण का विरोध करना अशोभनीय एवं निंदनीय...

चकराता के लोगों का कोविड-19 टीकाकरण का विरोध करना अशोभनीय एवं निंदनीय है- गिरीश डालाकोटी

न्यूज डेस्क / देहरादून। उत्तराखंड प्रगतिशील पार्टी के प्रदेश संयोजक गिरीश डालाकोटी ने कहा है कि ’प्रदेश सरकार ने कोविड-19 महामारी के टीकाकरण के लिए चकराता में टीकाकरण केंद्र बनाया है और वहां पर गत कुछ दिनों से टीकाकरण अभियान भी चलाया जा रहा है लेकिन कुछ गैर सरकारी संगठनों द्वारा इसका विरोध किया जा रहा है उनका कहना है कि चकराता में सर्वप्रथम चकराता के लोगों का ही टीकाकरण हो।

मैं उन तमाम संगठनों को अवगत कराना चाहता हूं कि यह एक राष्ट्रीय अभियान है एवं देश- प्रदेश के हर नागरिक का यह अधिकार है कि वह अपना टीकाकरण कहीं भी और कभी भी करवा सकता है! इसका विरोध करना अमानवीय हरकत है। स्थानीय लोगों को चाहिए कि वह सरकार के दिशा निर्देश के अनुसार अपना पंजीकरण कराकर स्लॉट बुक कराए और अपना टीकाकरण कराएं।

सत्ताधारी सरकार एवं विपक्षी पार्टी भी इस संबंध में मौन धारण किए हुए हैं एवं लोगों को अपने हाल पर छोड़ दिया गया है। स्थानीय विधायक एवं कई ऐसे जनप्रतिनिधि जो हंगामा खड़ा करते हुए अन्य मुद्दों पर दिखाई तो दे रहे थे, लेकिन इस महामारी में वह भी अपना मौन धारण किए हुए है। लोगों को खुला छोड़ दिया है इस टीकाकरण का विरोध करने के लिए! ऐसे लोग भी है। जो इन सब समस्याओं को एक गंभीर मुद्दा बनाकर ज्ञापन भी दिए दे रहे है। स्थानीय प्रशासन एवं जिला अधिकारी उस ज्ञापन को भी स्वीकार कर रहे हैं।

मैं प्रदेश की जनता से अपील करता हूं कि कृपया इन सभी चीजों को ध्यान में रखें एवं आगामी आने वाले विधानसभा चुनाव में इसकी प्रतिक्रिया आप अपने वोटों के द्वारा दें और जो भी लोग इस संकट की घड़ी में साथ खड़े नहीं है उन्हें जरूर सबक सिखाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here