संवाद जन सरोकारों का....

जंगलों में धाधक आग को बुझाते हुये,चार ग्रामीण गंभीर रूप से झुलसे

खबर सुने

स्थानीय संपादक / नारायणबगड़ चमोली।
विकास खण्ड के कड़ाकोट पट्टी के रैंस गांव के पैंफोरी तथा भंगोटा सारी तोक में जंगल की ओर से आई आग को बुझाने के लिए गए चार ग्रामीण बुरी तरह झुलस गए।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार देरशाम रैंस गांव के ग्रामीणों की छानियों व घास के ढेरोंं के पास जंगल में लगी आग भडक गई,जिसे बुझाने के लिए ग्रामीण दौड पड़े।

ग्रामीण रघुनाथ नेगी एवं सुखदेव सिंह भंडारी ने बताया कि भंगोटा के चीड़ के जंगल की ओर से जब आग रैंस के ग्रामीणों की छानियों और निजी घास के जंगल की ओर आई तो वे लोग आग बुझाने के लिए गए।

बताया कि आग इतनी विकराल थी कि आग बुझाने के प्रयास के दौरान माहेश्वरी देवी पत्नी भूपालसिंह उम्र42 वर्ष, मानसिंह पुत्र प्रेमसिंह 60 वर्ष, सुशीला देवी पत्नी शिशुपाल सिंह एवं उर्मिला देवी पत्नी मुकेश सिंह झूलस गये। आग की चपेट में आई माहेश्वरी देवी और मानसिंह की गंभीर स्थिति को देखते हुए ग्रामीण उन्हें पीएचसी नारायणबगड लाए ।

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी डॉक्टर नवीन चंद्र डिमरी ने बताया कि माहेश्वरी देवी की गंभीर हालत को देखते हुए उन्हें प्राथमिक उपचार देने के बाद हायर सेंटर रेफर किया गयाहै।

जबकि मानसिंह को अस्पताल में भर्ती कर उपचार किया जा रहा है। ग्राम प्रधान परिपूर्ण सिंह रावत ने प्रशासन से जंगल में आग लगाने वाले असमाजिक तत्वों के विरुद्ध कार्रवाई करने की मांग की है।

रिपोर्ट – सुरेन्द्र धनेत्रा

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: