संवाद जन सरोकारों का....

धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक,कार्यकर्ताओं को आवश्यक दिशा-निर्देश

खबर सुने

न्यूज डेस्क / देहरादून। देहरादून जनपद के धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं की बैठक क्लेमेन्टाउन वार्ड में महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने मुख्य अतिथि के रूप में शिरकत करते हुए कार्यकर्ताओं को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।

प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने बैठक मे उपस्थित पदाधिकारियों एवं कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि सभी ब्लाक कांग्रेस कमेटियां सुनिश्चित करें कि उनके बूथ, ब्लाक तथा अनुशांगिक संगठनों, विभागों व प्रकोष्ठों की कार्यकारिणियां शीघ्र गठित हों तथा जिला/महानगर/ब्लाक एवं नगर कांग्रेस कमेटियों के कार्यालयों में पार्टी का ध्वज आवश्यक रूप से फहराया जाय।

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि ने कहा कि भाजपा के शासन में मंहगाई अपने चरम पर है। जरूरत की सभी चीजें फल, सब्जी, दालें दुगने दाम पर मिल रहे हैं। पेट्रोल, डीजल व रसोई गैस के बेतहाशा बढते दाम आम आदमी का जीना दूभर कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा की केन्द्र व राज्य सरकारें मंहगाई पर काबू पाने में असफल साबित हुई हैं। रसोई गैस सिलेण्डर के दाम इतने बढ चुके हैं कि गरीब आदमी के घर का चूल्हा बुझने की कगार पर है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी चुनावों से पहले अपनी सभी जनसभाओं में मंहगाई कम करने का ढिढोरा पीटते थे परन्तु उनके 6 साल के कार्यकाल में मंहगाई अपने चरम पर पहुंच गई है तथा आम आदमी उसके बोझ को सहन करने में असमर्थ हो गया है। उन्होंने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना के समय करो़डों लोगों को अपने रोजगार से हाथ धोने पडे हैं तथा आज उनके परिवारों के सामने रोजी-रोटी का संकट खडा हो गया है ऐसे में वे अब मंहगाई का और बोझ सहन नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार द्वारा पेट्रोलियम पदार्थों के दामों में वृद्धि कर अपने चहेते घरानों की जेब भरने के लिए आम आदमी की जेब पर डाका डाला जा रहा है।

प्रदेश की जनता कांग्रेस पार्टी को आशाभरी नजरों से देख रही है हमें अपने-अपने क्षेत्र में जनहित के मुद्दों को प्राथमिकता से उठाते हुए भाजपा सरकार की नाकामियों तथा जन विरोधी नीतियों को जनता के बीच ले जाना है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकारों को आम जनता के दुःख-दर्द से कोई सरोकार नही है तथा भाजपा सरकारें गरीब जनता के प्रति संवेदनहीन बनी हुई हैं।

बैठक का संचालन ब्लाक अध्यक्ष विरेन्द्र सिंह ने किया। बैठक में प्रदेश उपाध्यक्ष आर्येन्द्र शर्मा, सूर्यकान्त धस्माना, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, प्रदेश सचिव सीताराम नौटियाल, गिरीश पुनेड़ा, पूर्व नेताप्रतिपक्ष नगर निगम नीनू सहगल, चौधरी साधूराम, प्रधान सोमपाल, मदन, महक सिंह, गुरूचरण, टेक बहादुर, रमेश कुमार मंगू, राजेश परमार, पीयूष गौड, विजय पाल, राहुल शर्मा, एस.के. शर्मा, मंसूर, सुघन, धर्मवीर, राजपाल, चन्द्रपाल, राजाराम, विकास, विजय, रघुवीर, विलेन्द्र, राजेश, सुरेन्द्र, अतार सिंह, महेन्द्र आदि उपस्थित थे।

इससे पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह जी ने भारतीय किसान यूनियन टिकैत द्वारा किसान यूनियन की प्रदेश प्रभारी उषा तोमर द्वारा आयोजित किसान पंचायत में पहुंच कर कांग्रेस पार्टी का समर्थन दिया। इस अवसर पर प्रीतम सिंह ने भाजपा के केन्द्र सरकार द्वारा बनाये गये किसान विरोधी बिलों को वापस लेने की मांग करते हुए कहा कि आज देश का किसान और खेत मजदूर सड़कों पर है और सत्ता के नशे में मदमस्त मोदी सरकार उनकी रोजी रोटी छीन खेत खलिहान को पूंजीपतियों के हवाले करने का षडयंत्र कर रही है।

उन्होंने कहा कि किसान विरोधी तीन काले कानूनों ने समूची मोदी सरकार के ‘सबका साथ, सबका विकास’ के मुखौटे को उतार दिया है। असल में मोदी सरकार का मूलमंत्र किसानों को मात, पूंजीपतियों का साथ! खेत मजदूरों का शोषण, पूंजीपतियों का पोषण, गरीबों का दमन, पूंजीपतियों को नमन! है। इस असवर पर अनेक किसान संगठनों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: