संवाद जन सरोकारों का....

नारायणबगड़ क्षेत्र में 18 जून को भारी बारिश से बंद पड़े सड़क मार्ग,ग्रामीण कर रहे है कई दिक्कतों का सामना

खबर सुने

स्थानीय संपादक / नारायणबगड़ चमोली। पिछले दिनों हुई भारी अतिवृष्टि के कारण क्षतिगस्त हुए क्षेत्र के ग्रामीण सड़कों पर यातायात बहाल नहीं होने के कारण लोगों को कई तरहों की दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं अब इन क्षेत्रों में आवश्यक वस्तुओं समेत खाद्यान्न की किल्लत बढ़ती जा रही है।

बीते 18 जून से 21 जून तक क्षेत्र में हुई भारी बारिश के कारण नारायणबगड़-परखाल-चोपता-भटियाणा,परखाल-सणकोट,परखाल-जुनेर,परखाल-बनेला-सिलोडी, नारायणबगड़-भगोती-झिंझोणी,भगोती-मौणा,भगोती-गढसीरा,मींग गधेरा-मींग-बैनोली,नारायणबगड़-किमोली, नारायणबगड़-कोब आदि सड़कें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई थी।

जिनमें से नारायणबगड़-भगोती-झिंझोणी, नारायणबगड़-किमोली,नारायणबगड़-कौब, नारायणबगड़-तरखाल,परखाल-सणकोट, परखाल-जुनेर, परखाल-बनेला-सिलोडी सड़क मार्ग पर जहां यातायात बहाल हो गया है वहीं परखाल-चोपता-भटियाणा मोटर मार्ग अभी जाख गांव तक ही खुल पाया है।

जिसके चलते इस क्षेत्र के चोपता,भंगोटा,कूश,रैंस,कोठली,भटियाण,लोदला,बेथरा,कफारतीर समेत दर्जनों गांवों के लोगों को भारी मुश्किलें उठानी पड़ रही है। दूसरी ओर मींगगधेरा-मींग-बैनोली,भगोती-मौणा मोटर मार्ग अभी पूरी तरह ठप्प पडें हुए हैं।

जिसके चलते यहां के भी दर्जनों गांवों के लोगों को मीलों पैदल चलना पड़ रहा है। लोनिवि थराली के अधिशासी अभियंता सतबीर सिंह यादव ने बताया कि डिविजन के अंतर्गत 15 मोटर मार्ग बारिश के कारण अवरुद्ध थे जिनमें से 13 सड़कें यातायात के लिए बहाल कर दी गई हैं तथा शेष मोटर मार्गों पर युद्धस्तर पर कार्य चल रहें हैं।
रिपोर्ट – सुरेन्द्र धनेत्रा

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: