संवाद जन सरोकारों का....

महानगर कांग्रेस कमेटी देहरादून के अध्यक्ष द्वारा जिलाधिकारी देहरादून को सौपा ज्ञापन

खबर सुने

न्यूज डेस्क /देहरादून। महानगर कांग्रेस कमेटी देहरादून के अध्यक्ष लालचंद शर्मा जी द्वारा महामारी कोरोना काल के चलते टीकाकरण संस्थानों में वैक्सीन की कमी एवं  देहरादून के सरकारी तथा गैर सरकारी अस्पतालों में स्थानीय जनता को आ रही समस्याओं को लेकर जिलाधिकारी देहरादून को ज्ञापन सौंपा गया।

लालचंद शर्मा ने कहा कि  सरकार की ओर से हाल ही में 18 प्लस आयु वर्ग के लोगों के लिए वैक्सीन लगाने काम शुरू किया गया है। जबकि पहले से ही 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए वैक्सीन लगाई जा रही है।

इस बीच देहरादून के ही कई टीकाकरण सेंटरों में 45 प्लस की उम्र के लोगों के लिए वैक्सिंग का  टोटा हो गया है जिस कारण लोगों को सेंटरों से बैरंग लौटना पड़ रहा है।  काफी संख्या में 18 प्लस आयु वर्ग के लोगों ने वैक्सीन लगाने के लिए पंजीकरण किया हुआ है। लेकिन तमाम लोगों का वैक्सीनेशन के लिए नंबर नहीं आ पा रहा है।

जिस कारण भी लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। तमाम युवा वेसलीन लगाने के लिए सैंटरो में जा रहे हैं लेकिन वहां अव्यवस्थाओं के चलते युवाओं को  वेक्सीन नहीं लग पा रही है।

कांग्रेस की मांग की जिन 45 प्लस के लोगों  को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है। उनको समय पर दूसरी डोज लगाई जाए इसके लिए सेंट्रो में वैक्सीन की पर्याप्त मात्रा उपलब्ध कराई जानी चाहिए। ताकि 45 उम्र से अधिक के लोग अपनी दूसरी डोज समय पर लगा सके।

वही कांग्रेस की ये भी मांग यह है कि 18 से 40 आयु वर्ग के लोगों के लिए वैक्सिंग सेंटरों की संख्या बढ़ाने के साथ ही प्रयाप्त संख्या में वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएं।  ताकि जिन लोगों ने बीते दिनों वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण कराया था उन्हें जल्द से जल्द वैक्सीन लग सके।

लाल शर्मा ने कहा कि तमाम लोग पूर्व में कोविशिल्ड की पहली डोज़ लगा चुके हैं। अब इन लोगों को इसी कंपनी की वैक्सीन लगाने के लिए भटकना पड़ रहा है। ऐसे में कहीं जगह उक्त कंपनी की वैक्सीन कि दूसरी डोज़ नहीं मिल रही है।

लोग सेंटरों में जाकर पूछ रहे हैं कि कोविशिल्ड की दूसरी डोज़ कहां पर लगेगी। लालचन्द शर्मा ने कहा कि टीकाकरण सेंटरों में ऐसा बोर्ड भी लग जाये कि ये पता चल सके कि किस टीकाकरण सेन्टर में कोविशिल्ड या कोवेक्सिन  लग रही है। ताकि लोग आसानी से पता कर सके कि यहां पर कौन सी कंपनी की वैक्सीन लग रही है।

उन्होनें कहा कि कोरोना काल के चलते देहरादून में अब ब्लैक फंगस के मरीज भी मिलने शुरू हो गए हैं। जो कि एक बड़ा चिंता का विषय है। ऐसे में कांग्रेस की मांग है है कि ब्लैक फंगस बीमारी से निपटने के लिए सरकार को बड़े स्तर पर एक सिस्टम तैयार करना होगा। ताकि भविष्य में इस बीमारी से निपटा जा सके।

लालचंद शर्मा ने बताया कि कोरोना के कई गंभीर मरीज अस्पताल में भर्ती हो रहे हैं। लेकिन अस्पतालों में रखे वेंटीलेटर के संचालन के लिए पर्याप्त व्यवस्था नहीं है। वेंटिलेटर मशीनें धूल फांक रही हैं। इसलिए कांग्रेस की मांग है कि सरकार को वेंटिलेटर के संचालन के लिए अलग से एक्सपर्ट स्टाफ की तैनाती करनी चाहिए ताकि कोरोना के गंभीर मरीजों की जान बचाई जा सके।

इसके साथ ही उन्होंने ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराया कि कई लोग जो अन्य बीमारियों से पीड़ित है जिनका इलाज सरकारी अस्पताल में नही हो पा रहा है जो बडे़ अस्पतालों में अपना इलाज करवाने के लिए असमर्थ है कांग्रेस मांग करती है कि इन मरीजों के लिए सरकारी अस्पताल में पर्याप्त व्यवस्था की जाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: