मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र द्वारा विभिन्न कार्यो हेतु वित्तीय स्वीकृत दी
खबर सुने

न्यूज डेस्क / देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सचिवालय में कार्यरत 309 होमगार्डस को 25-04-2017 से 02-07-2018 तक के अवशेष ड्यूटी भत्ते के एरियर भुगतान हेतु प्रथम किस्त के रूप में रू0 1 करोड़ 24 लाख 38 हजार 6 सौ रूपये की धनराशि स्वीकृति की है। मुख्यमंत्री ने प्रदेश के आश्रम पद्धति विद्यालयों की भांति जनजाति कल्याण के संस्थानों व विद्यालयों में भी भोजन भत्ता 4500 रूपये किये जाने की दी स्वीकृति।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने समाज कल्याण एवं जनजाति कल्याण विभाग के अन्तर्गत अनुसूचित जाति, जनजाति की अन्य संस्थाओं जिसमें औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान, अनुसूचित जाति जनजाति के छात्रावासों, एकलव्य आवासीय विद्यालयों, राजकीय वृद्ध अशक्त गृह, राजकीय मिक्षुक गृह में भी अब आश्रम पद्धति विद्यालयों की भांति भोजन भत्ते की दर 3000 के स्थान पर 4500 रूपये किये जाने की स्वीकृति प्रदान की हैं।

मुख्यमंत्री ने प्रदान की ऊधमसिंहनगर के लालकोठी शारदा घाट मंदिर व भारामल मंदिर के सौन्दर्यीकरण हेतु रू0 49.72 लाख की धनराशि। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने जनपद ऊधमसिंहनगर के लालकोठी शारदा घाट मंदिर एवं भारामल मंदिर के सौन्दर्यीकरण हेतु रू0 49.72 लाख की धनराशि प्रदान करने की स्वीकृति प्रदान की है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने साइंस सिटी देहरादून की स्थापना से सम्बन्धित कार्यों में तेजी लाये जाने के लिये तीन समितियों के गठन को मंजूरी प्रदान की है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने राजकीय इण्टर कॉलेज मिसराश पट्टी सहसपुर, देहरादून के भौतिक विज्ञान के प्रवक्ता रमेश प्रसाद बडोनी को 01 अगस्त, 2021 से 31 दिसम्बर, 2021 तक यूनाइटेड स्टेट-इण्डिया एजुकेशन फाउण्डेशन के तहत प्रशिक्षण में प्रतिभाग हेतु निर्धारित आयु सीमा में एक वर्ष का शिथिलीकरण प्रदान करते हुए प्रशिक्षण में प्रतिभाग करने हेतु यूनाइटेड स्टेट, अमेरिका में जाने की अनुमति प्रदान की है। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने जे0एल0एन0 जिला चिकित्सालय, रूद्रपुर ऊधमसिंहनगर में मरीज के उपचार में हुई लापरवाही पर अस्पताल के वरिष्ठ फिजिशियन डॉ0 मनोज कुमार तिवारी को कठोरतम चेतावनी निर्गत करने की स्वीकृति प्रदान की है।

Previous articleपूर्व सीएम हरीश रावत के ट्वीट एवं बयान पर आम आदमी पार्टी ने किया पलटवार
Next articleहमारे देश के अन्दर सबसे अधिक वैक्सीन बनाने की क्षमताः सतपाल महाराज

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here