संवाद जन सरोकारों का....

राइका नारायणबगड के प्रधानाचार्य 30 साल की सेवा के बाद सेवानिवृत्त

खबर सुने

स्थानीय संपादक / नारायणबगड चमोली।
राइका नारायणबगड के प्रधानाचार्य एवं पूर्व खंड शिक्षा अधिकारी आर.एल.रोधियाल को उनके 30 सालों की सेवा अवधि के बाद सेवानिवृत्ति पर भावभीनी विदाई दी गई।

बृहस्पतिवार को राइका के सभागार में आयोजित विदाई समारोह में बतौर मुख्य अतिथि ब्लाक प्रमुख यशपाल सिंह नेगी एवं अति विशिष्ट अतिथि खंड शिक्षा अधिकारी के.एस.टोलिया व खंड विकास अधिकारी मदनसिंह ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण करते हुए दीप प्रज्वलित किया।

छात्र-छात्राओं के सरस्वती वंदना और स्वागत गीत के साथ ही आर.एल.रोधियाल के सेवानिवृत्त होने पर सभी अतिथियों ने उन्हें एवं उनकी अर्धांगिनी श्रीमती सीता देवी को पुष्प गुच्छ,शॉल सहित विभिन्न यादगार स्मृति चिंहों को भेंट किया।

समारोह में यशवीर सिंह नेगी, सीके गिरी,डीएल टम्टा पूर्व प्रधानाचार्यों और प्रधानाचार्य डीडी शर्मा,केएस रावत, कुंवरसिंह गुंसाई,हरीशचंद्र सिलोडी, जेष्ठ उप प्रमुख कुशला सती आदि वक्ताओं ने आर एल रोधियाल के सेवाकाल की सराहना करते हुए उनके सुखमय जीवन की कामनाएं दी।

विदाई समारोह के रोधियाल के सेवानिवृत्त होने के अवसर पर उनके इष्ट मित्र और परिजन भी बडी संख्या में उपस्थित रहे।

शिक्षक समरपाल चौधरी ने अपने उद्बोधन के दौरान भावविभोर होकर ,बीते हुए लंम्हों की कसक साथ तो होगी । ख्वाबों में हो चाहे मुलाकात तो होगी,हिंदी गीत की चंद पंक्तियों को गाकर उनके साथ बिताए कार्यकाल को याद किया।

आर.एल.रोधियाल ने अपने संबोधन में कहा कि जीवन का जो क्षण है वह बहुत ही द्रुत गति से चलता है। उन्होंने कहा कि अध्यापन के दौरान मैने अपने विद्यार्थियों को कहा कि समय को पीछे नहीं बल्कि आगे से पकडने का प्रयास करना चाहिए।उन्होंने समारोह में उपस्थित छात्र छात्राओं से कहा कि आपके अंदर एक विशेष प्रतिभा मौजूद है उसे पहचान कर उसे पाने के लिए संघर्ष करने की आवश्यकता होती है।

उन्होंने सभी अतिथियों,शिक्षकों,छात्र छात्राओं और परिजनों को उनको दिया गया सम्मान और अतुलनीय सहयोग के लिए धन्यवाद किया।स अवसर पर आर एल रोधियाल ने आर्थिक रूप से 30 स्वेटर्स गरीब छात्र छात्राओं को बांटी गई।

इससे पूर्व बुधवार को आर.एल.रोधियाल ने अपनी सेवाकाल की समाप्ति के उपरांत प्रवक्ता गणित के वरिष्ठ शिक्षक बीरेन्द्र सिंह नेगी को प्रधानाचार्य का कार्यभार सौंपा।विदाई समारोह का संचालन डाक्टर अर्पणा सती ने किया।

रिपोर्ट – सुरेन्द्र धनेत्रा

Leave A Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: